समाचार
मुंबई-नागपुर एक्सप्रेसवे- नागपुर व वाशिम के मध्य का खंड मई से खोला जाएगा

701 किलोमीटर लंबे मुंबई-नागपुर एक्सप्रेसवे को इस वर्ष से कुछ चरणों में जनता के लिए खोल दिया जाएगा।

पहले चरण में नागपुर और वाशिम जिले के बीच ग्रीनफील्ड खंड मई से सार्वजनिक उपयोग के लिए खोला जाएगा।

हाल ही में राज्य के शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने घोषणा की कि नागपुर और शिरडी (अहमदनगर) के मध्य पहला चरण मई में शुरू होगा। फिर भी वाशिम तक एक्सप्रेसवे सार्वजनिक उपयोग के लिए तैयार है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, “पहले चरण में अधूरे काम के कारण शिरडी तक एक्सप्रेसवे नहीं खोल पाएँगे। इसकी बजाय नागपुर से वाशिम में शेलू बाज़ार तक 210 किलोमीटर की सड़क, जो उपयोग के लिए तैयार है, को पहले चरण में खोले जाने की संभावना है। दरअसल, अगले 20 किमी का मार्ग अगले दो माह में तकनीकी कारणों से पूरा होने की स्थिति में नहीं है।”

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा संकल्पित और शुरू किया गया 701 किलोमीटर वाला छह लेन का सुपर एक्सप्रेसवे 10 जिलों से होकर गुज़रता है। अब यह मुंबई से नागपुर की यात्रा के समय को 18 घंटे से घटाकर आठ घंटे करने के लिए तैयार है।

150 किमी प्रति घंटे की उच्च गति के लिए डिजाइन किया गया हाई-स्पीड गलियारा लगभग 55,000 करोड़ रुपये में बनाया जा रहा है।

सोमवार (4 अप्रैल) को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक्सप्रेसवे की प्रगति की समीक्षा की और परियोजना की नोडल एजेंसी महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास निगम (एमएसआरडीसी) के अधिकारी को एक्सप्रेसवे के साथ हरियाली सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।