समाचार
“मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना का निर्माण कार्य तेज़ी से जारी है”- रेल मंत्री

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने मंगलवार (1 फरवरी) को जानकारी दी कि मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना का निर्माण कार्य तेज़ी से जारी है।

अश्विनी वैष्णव ने संवाददाताओं को बताया, “परियोजना का कार्य तेज़ी से चल रहा है। पहले से ही 13 किलोमीटर लंबाई के खंभों का कार्य पूरा हो चुका है। हमने हर माह 5 किमी का लक्ष्य प्राप्त करना शुरू कर दिया है। अब हम हर माह 10 किमी का लक्ष्य रख रहे हैं।”

508 किलोमीटर लंबी मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना को नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएचएसआरसीएल) द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है।

यह भारत में लागू होने वाला पहला हाई-स्पीड रेल गलियारा है। इसे जापान सरकार की तकनीक और वित्तीय सहायता से क्रियान्वित किया जा रहा है।

मुंबई-अहमदाबाद हाई-स्पीड रेल परियोजना की कुल लंबाई 508 किलोमीटर है। इसमें 352 किमी गुजरात राज्य (348 किलोमीटर और दादरा व नगर हवेली (4 किलोमीटर) में है। शेष 156 किमी महाराष्ट्र राज्य में स्थित है।

352 किलोमीटर में से 343 किलोमीटर के सिविल अनुबंध पहले ही किए जा चुके हैं। एलएंडटी 325 किमी लंबाई के लिए कार्यकारी एजेंसी है।

गत वर्ष नवंबर में एनएचएसआरसीएल ने परियोजना के लिए 21 किलोमीटर भूमिगत सुरंग कार्यों के लिए बोलियाँ आमंत्रित की थीं। बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स में मुंबई भूमिगत स्टेशन और महाराष्ट्र राज्य में शिलफाटा के मध्य सुरंग होगी।