समाचार
हाफिज़ तलहा सईद के बाद पुलवामा हमले में शामिल मोहिउद्दीन औरंगजेब आतंकी घोषित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने पुलवामा आतंकवादी हमले में सम्मिलित जैश-ए-मोहम्मद के मोहिउद्दीन औरंगजेब को यूएपीए के तहत आतंकवादी घोषित किया। गृह मंत्रालय ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, अधिसूचना में लिखा गया कि गैर-कानूनी गतिविधियाँ (रोकथाम) अधिनियम के अंतर्गत मोहिउद्दीन औरंगजेब को आतंकवादी घोषित किया गया है। वह पुलवामा आतंकवादी हमले में सम्मिलित था।

इससे पूर्व, केंद्र सरकार ने 8 अप्रैल को मुंबई में 26/11 के आतंकी हमले के मास्टरमाइंड और लश्कर के संस्थापक हाफिज़ सईद के पुत्र हाफिज़ तलहा सईद को आतंकवादी घोषित किया था।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक अधिसूचना में बताया था कि 46 वर्षीय हाफिज़ तलहा सईद भारत और अफगानिस्तान में भारतीय हितों पर निशाना साधने के लिए लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) द्वारा भर्ती, धन संग्रह, योजना बनाने व हमलों को अंजाम देने में सक्रिय रूप से सम्मिलित रहा है।

कहा गया कि वह पूरे पाकिस्तान में लश्कर-ए-तैयबा के विभिन्न केंद्रों का सक्रिय रूप से दौरा कर रहा है। साथ ही अपने उपदेशों से भारत, इज़राइल, अमेरिका और अन्य पश्चिमी देशों में भारतीय हितों के विरुद्ध जिहाद का प्रचार कर रहा है।

बता दें कि अब तक मौलाना मसूद अजहर, हाफिज़ मोहम्मद सईद, जकीउर रहमान लखवी, दाऊद इब्राहिम कासकर, वाधवा सिंह बब्बर, लखबीर सिंह, रंजीत सिंह, परमजीत सिंह, भूपिंदर सिंह भिंडा, गुरमीत सिंह बग्गा, गुरपटवंट सिंह पन्नून, हरदीप सिंह निज्जर, परमजीत सिंह, साजिद मीर आदि को आतंकवादी घोषित किया जा चुका है।