समाचार
“उप्र की अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनेगा मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेसवे”- योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार (21 अगस्त) को कहा कि प्रस्तावित गंगा एक्सप्रेसवे, जो पश्चिम उप्र में मेरठ को राज्य के पूर्वी हिस्से में प्रयागराज से जोड़ेगा, राज्य की अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनेगा।

एएनआई के हवाले से मुख्यमंत्री ने कहा, “हम पश्चिमी उप्र के मेरठ को पूर्वी उप्र के प्रयागराज से जोड़ रहे हैं। गंगा एक्सप्रेसवे राज्य की अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनेगा। गंगा एक्सप्रेसवे के माध्यम से लखनऊ से मेरठ की यात्रा का समय कम होकर 5 घंटे और प्रयागराज से मेरठ तक की यात्रा 6.5 घंटे की हो जाएगी।”

प्रस्तावित गंगा एक्सप्रेसवे करीब 594 किलोमीटर लंबा, 6-लेन चौड़ा (आठ लेन तक के विस्तार योग्य) ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे होगा। एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश के 12 जिलों (पश्चिम से पूर्व की ओर) मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज से होकर गुजरेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि परियोजना के लिए 90 प्रतिशत से अधिक भूमि अधिग्रहण पूरा हो चुका है। उन्होंने बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए केंद्रीय बजट में धन आवंटन हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का धन्यवाद भी किया।