समाचार
50 लाख अप्रयुक्त कोविशील्ड खुराक के बेकार होने के दावे वाली रिपोर्टें भ्रामक हैं- केंद्र

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को उन भ्रामक मीडिया रिपोर्टों का खंडन किया, जिसमें दावा किया गया कि इस माह के अंत तक 50 लाख अप्रयुक्त कोविशील्ड खुराक बेकार हो सकती हैं।

केंद्र ने सभी राज्य सरकारों को टीकों की उपलब्धता की समीक्षा करने की सलाह दी, जो टीकाकरण अभियान की शुरुआत से हैं। यह इसलिए ताकि सुनिश्चित हो सके कि खुराक की बर्बादी कम से कम हो।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने गत वर्ष नवंबर में राज्यों को सूचित किया था कि वे नियमित रूप से उन टीकों की स्थिति की समीक्षा करें। राज्यों को यह भी सुनिश्चित करने की सलाह दी गई कि सरकारी और निजी दोनों सुविधाओं में वैक्सीन की कोई खुराक समाप्त न हो जाएँ।

बयान में बताया गया कि राज्यों को सलाह दी गई थी कि वे अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य)/प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) के स्तर पर निजी अस्पतालों के साथ टीके की खुराक के उपयोग को देखने के लिए एक त्वरित वीडियो-कॉन्फ्रेंस करें।

मंत्रालय ने कहा कि राज्यों को यह भी सलाह दी गई थी कि वे कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत टीके का प्रशासन या निजी अस्पतालों में रियायती दरों पर टीकाकरण जैसे हस्तक्षेपों का प्रयास कर सकते हैं।

टीकाकरण से संबंधित जानकारी के लिए सरकार के वेब पोर्टल कोविन पर वैक्सीन परिवर्तन का प्रावधान उपलब्ध कराया गया है।

इसके अतिरिक्त, निजी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर उपलब्ध टीकों का उपयोग सुनिश्चित करने के लिए पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना, गुजरात और दिल्ली जैसे राज्यों के साथ भी चर्चा की गई।