समाचार
सात बड़े निवेश वाले कपड़ा पार्क बनाने की योजना को 14 दिनों में मिल सकती स्वीकृति

देश के कपड़ा क्षेत्र के लिए एक बड़ी मेक इन इंडिया नीति को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल अगले 14 दिनों के भीतर सात बड़े निवेश वाले कपड़ा पार्क (मित्र) स्थापित करने की प्रस्तावित योजना को स्वीकृति दे सकता है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इन पार्कों को चीन और वियतनाम के पार्कों के अनुरूप 1,000 एकड़ क्षेत्र में तीन वर्ष की अवधि में स्थापित करने का प्रस्ताव दिया गया है। ये एकीकृत सुविधाएँ, प्लग-एंड-प्ले इंफ्रास्ट्रक्चर और परिवहन घाटे को कम करने के लिए त्वरित परिवर्तन का समय प्रदान करेंगे, जिसका उद्देश्य इस क्षेत्र में बड़े खर्च वाले निवेश को आकर्षित करना है।

इन पार्कों में निर्बाध पानी व बिजली आपूर्ति, सामान्य उपयोगिताओं और अनुसंधान एवं विकास (आरएंडडी) प्रयोगशालाएँ भी होंगी।

यह गौर किया जाना चाहिए कि यह केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा कपड़ा क्षेत्र के लिए 10,683 करोड़ रुपये की उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना को स्वीकृति देने के कुछ ही दिनों बाद आया है। इस योजना से 19,000 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश की संभावना है।

2021-22 के बजट में घोषित मित्र पार्कों से कपड़ा उद्योग को विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनने, बड़े निवेश आकर्षित करने, रोजगार सृजन और निर्यात को बढ़ावा देने में सक्षम होने की उम्मीद है।