समाचार
महाराष्ट्र में टाटा पावर रियल एस्टेट टाउनशिप में 5,000 ईवी चार्जिंग केंद्र स्थापित करेगी

हरित गतिशीलता की ओर महत्वपूर्ण कदम बढ़ाते हुए टाटा पावर ने अपने सदस्यों की विकास करने वाली संपत्तियों में 5,000 इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग केंद्र स्थापित करने हेतु महाराष्ट्र के नेशनल रियल एस्टेट डेवलपमेंट काउंसिल (नारेडको) के साथ समझौता किया है।

समझौते पर गुरुवार (28 अप्रैल) को मुंबई में आयोजित रियल एस्टेट फोरम, 2022 में हस्ताक्षर किए गए।

कंपनी ने कहा, “यह समझौता पूरे महाराष्ट्र में कार्बन उत्सर्जन को कम करने और ई-मोबिलिटी को अपनाने में तेज़ी लाने की दिशा में एक बड़ा कदम है।”

इसके अंतर्गत टाटा पावर नारेडको के सदस्य विकासकर्ताओं के लिए एक व्यापक ईवी चार्जिंग समाधान प्रदान करेगा। सेवाओं में आवश्यकता पड़ने पर चार्जरों की स्थापना, रखरखाव और उन्नयन सम्मिलित होगा।

नारेडको के सदस्य डेवलपर्स की संपत्तियों के जरिये ईवी मालिकों को सातों दिन चौबीसों घंटे चार्जिंग की सुविधा मिलेगी। साथ ही ईवी मालिकों को टाटा पावर के ईजेड चार्ज मोबाइल ऐप के जरिये ई-भुगतान की सुविधा भी उपलब्ध होगी।

ये ईवी चार्जर परिसर की प्रकृति के आधार पर सार्वजनिक/अर्ध-सार्वजनिक चार्जिंग स्टेशनों के रूप में उपलब्ध करवाए जाएँगे। इस कदम से यात्रियों को इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए चार्जरों को जल्दी से उपयोग करने में सहायता मिलेगी।

कंपनी ने कहा, “टाटा पावर देश भर में ईवी चार्जिंग केंद्रों की स्थापना में अग्रणी है, जो ईवी चार्जिंग पारिस्थितिक तंत्र के सभी क्षेत्र सार्वजनिक चार्जिंग, कैप्टिव चार्जिंग और होम और वर्कप्लेस चार्जिंग स्टेशन में उपलब्ध है।”

टाटा पावर ने पहले ही अपोलो टायर्स, एचपीसीएल, टीवीएस मोटर्स, एमए स्टेजस एंड ट्रेल्स, लोढ़ा ग्रुप, रुस्तमजी, एनविरो और अन्य के साथ भागीदारी की है, ताकि ईवी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर को स्थापित और बढ़ाया जा सके।

कंपनी ने महाराष्ट्र में 500 से अधिक सार्वजनिक और अर्ध-सार्वजनिक चार्जिंग केंद्र और विभिन्न शहरों में 1,500 से अधिक सार्वजनिक ईवी चार्जिंग केंद्र बनाए हैं।