समाचार
केंद्रीय मंत्री नारायण राणे गिरफ्तार, मुख्यमंत्री ठाकरे को थप्पड़ मारने वाला बयान दिया था

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री (एमएसएमई) मंत्री नारायण राणे को मंगलवार (24 अगस्त) को नासिक पुलिस ने चिपलून से गिरफ्तार कर लिया।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, नारायण राणे को अब रत्नागिरि न्यायालय में पेश किया जाएगा। हालाँकि, इससे पूर्व उन्होंने जमानत याचिका दायर की थी, जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया छा। इसके पश्चात उन्होंने बॉम्बे उच्च न्यायालय का रुख किया था।

केंद्रीय मंत्री ने रायगढ़ जिले में सोमवार को जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान कहा था, “शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को यह नहीं पता कि देश की स्वतंत्रता को कितने वर्ष हुए हैं। भाषण के दौरान वे पीछे इस बारे में पूछते नज़र आए थे। यदि मैं वहाँ होता तो उन्हें जोरदार थप्पड़ मारता।”

इसके बाद उनके विरुद्ध कई जगह प्राथमिकी दर्ज की गई। नासिक के पुलिस आयुक्त ने आपत्तिजनक बयान देने के मामले में तत्काल उनकी गिरफ्तारी के आदेश दिए और एक पुलिस दल को चिपलुन के लिए रवाना किया था।

अपने विरुद्ध दर्ज आपत्तियों को चुनौती देने के लिए केंद्रीय मंत्री ने बॉम्बे उच्च न्यायालय का रुख किया और गिरफ्तारी से छूट देने का अनुरोध किया। मामले की तत्काल सुनवाई की मांग की गई लेकिन न्यायाधीश एसएस शिंदे और न्यायाधीश एनजे जमादार की पीठ ने मना कर दिया। उन्होंने कहा कि वकील को पूरी प्रक्रिया का पालन करना होगा।

उधर, नारायण राणे के आवास के पास शिवसेना की युवा शाखा और भाजपा कार्यकर्ताओं के मध्य झड़प हुई थी। पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव किए, जिस पर पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। चिपलुन में भी शिवसेना और भाजपा कार्यकर्ताओं के मध्य झड़प हुई है।