समाचार
एनटीपीसी ने मध्य प्रदेश में सौर परियोजनाओं के लिए विद्युत खरीद समझौते पर हस्ताक्षर किए

भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी एनटीपीसी रिन्यूएबल एनर्जी लिमिटेड (एनटीपीसी आरईएल) ने भारतीय रेलवे, मध्य प्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड (एमपीपीएमसीएल) और रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर के साथ एक विद्युत खरीद समझौते (पीपीए) और अन्य परियोजना समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

ये सौर परियोजनाएँ रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड (आरयूएमएसएल) के मध्य प्रदेश के शाजापुर सौर पार्क में स्थापित की जा रही हैं।

गुरुवार (25 नवंबर) को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह की उपस्थिति में समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

एनटीपीसी आरईएल ने मध्य प्रदेश के शाजापुर सोलर पार्क में 450 मेगावॉट की सौर परियोजनाओं के लिए 19 जुलाई को आयोजित रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड की नीलामी में 2.35 रुपये/किलोवॉट की दर से 105 मेगावॉट और 2.33 रुपये/केडब्ल्यूएच की दर से 220 मेगावॉट की क्षमता हासिल की।

आधिकारिक बयान के अनुसार, एनटीपीसी ने प्रतिस्पर्धी बोलियों के माध्यम से 6 गीगावॉट से अधिक आरई क्षमता हासिल की है।

सितंबर में एनटीपीसी आरईएल ने राजस्थान में अपनी 470 मेगावॉट सौर परियोजनाओं और गुजरात में 200 मेगावॉट की सौर परियोजना के लिए बैंक ऑफ इंडिया के साथ 15 वर्ष के कार्यकाल पर बहुत प्रतिस्पर्धी दर पर 500 करोड़ रुपये के अपने पहले ग्रीन टर्म लोन समझौते पर हस्ताक्षर किए।