समाचार
केरल में पीएफआई का पदाधिकारी आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या के मामले में गिरफ्तार

कट्टरपंथी इस्लामी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के एक पदाधिकारी को सोमवार को केरल के पलक्कड़ जिले में आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया।

जिला पुलिस प्रमुख आर विश्वनाधी ने संवाददाताओं से कहा कि गिरफ्तार पदाधिकारी जिले के मांबरम में ए संजीत की हत्या में सीधे तौर पर सम्मिलित था। पुलिस ने कहा कि अन्य दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाएगा। अभी पदाधिकारी की पहचान का खुलासा नहीं किया गया है।

उत्तरजीवित की पत्नी ने कहा था कि वह उनकी पहचान कर सकती है, जिन्होंने कार से आकर पति की हत्या की थी। पुलिस ने कहा कि 27 वर्षीय संजीत पर एसडीपीआई के गुंडों ने हमला किया था, जब वह अपनी पत्नी के साथ मोटरसाइकिल पर जा रहे थे।

जानकारी के मुताबिक, हमलावर एक कार में आए थे। उन्होंने उनकी बाइक रोक दी और उनकी पत्नी समेत कई लोगों के सामने दिनदहाड़े उन पर हमला कर दिया था। पुलिस ने बताया कि मामले में उन्होंने तीन लोगों को हिरासत में लिया है।

आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या की निंदा करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने आरोप लगाया कि यह एक सुनियोजित हत्या थी। उन्होंने राज्य में ऐसी घटनाओं के लिए पुलिस और राज्य सरकार की विफलता को जिम्मेदार ठहराया। वहीं, एसडीपीआई ने आरोपों को खारिज किया है।

इस बीच, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की और हत्या की एनआईए से जाँच करवाने की मांग की। गृह मंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने आरोप लगाया था कि राज्य में अब तक 50 आरएसएस-भाजपा कार्यकर्ताओं की इस्लामवादियों ने हत्या कर दी, जिनमें से दस गत 5 वर्षों में मारे गए हैं।