समाचार
उच्च न्यायालय के निर्णय पर तजिंदर पाल बग्गा के पिता बोले, “केजरीवाल उनसे डरते हैं”

भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा के पिता ने कहा कि अरविंद केजरीवाल उनके बेटे से डरते हैं क्योंकि वह आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख के गलत कार्यों को उजागर कर रहे थे।

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने तजिंदर पाल सिंह बग्गा के लिए एक राहत में
शनिवार रात निर्देश दिया कि दिल्ली भाजपा नेता के विरुद्ध कोई कठोर कदम नहीं उठाया जाए क्योंकि उन्होंने मोहाली की एक न्यायालय द्वारा दिन में पहले जारी किए गए गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगाने की मांग की थी।

मोहाली न्यायालय द्वारा गत माह पंजाब पुलिस द्वारा उनके विरुद्ध दर्ज एक मामले के संबंध में गिरफ्तारी वारंट जारी करने के कुछ घंटों बाद बग्गा ने इसे चुनौती देते हुए उच्च न्यायालय का रुख किया था।

न्यायाधीश अनूप चितकारा ने आधी रात से ठीक पहले बग्गा की याचिका पर अपने आवास पर तत्काल सुनवाई की। बग्गा के वकील चेतन मित्तल ने उच्च न्यायालय के आदेश पर कहा, “10 मई तक कोई सख्त कदम नहीं उठाया जाएगा।”

विशेष रूप से, 10 मई को उच्च न्यायालय बग्गा की याचिका पर विचार करेगा, जिसमें गत माह उनके विरुद्ध दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने की मांग की गई थी।

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता के पिता प्रीतपाल सिंह बग्गा ने खुशी व्यक्त की है।

एएनआई के हवाले से उन्होंने कहा, “हमें खुशी है कि पंजाब-हरियाणा उच्च न्यायालय ने तजिंदर के विरुद्ध जबरदस्ती कार्रवाई नहीं करने का निर्देश दिया। अरविंद केजरीवाल उनसे डरे हुए हैं क्योंकि वे उनके गलत कार्यों को उजागर कर रहे हैं।”

बग्गा के पिता ने दावा किया, “उन्होंने तजिंदर को आप में सम्मलित होने के लिए मनाने का भी प्रयास किया था लेकिन वह उसमें नहीं गए।”