समाचार
मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई की बेंगलुरु के आसपास चार नए उपग्रह शहर बनाने की योजना

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शुक्रवार को बेंगलुरु के आसपास चार नए बेंगलुरु और कर्नाटक में छह एकीकृत शहर बनाने का विचार रखा।

बेंगलुरु की आबादी वर्तमान 1.3 करोड़ से 2040 में लगभग तीन से चार करोड़ होने का अनुमान लगाते हुए बसवराज बोम्मई ने कहा कि शहर को उपग्रहों से घिरे ग्रह की तरह विकसित किया जाना चाहिए।

डेक्कन हेराल्ड द्वारा आयोजित बेंगलुरु 2040 शिखर सम्मेलन में उन्होंने कहा, “मेरे अनुसार, बेंगलुरु एक ऐसे ग्रह की तरह होना चाहिए, जहाँ रेल, सड़क, हाई-टेक यात्रा व्यवस्था और यात्रियों के लिए परिवहन के आसान साधन के साथ सबसे अच्छी संयोजकता वाले उपग्रह शहर होंगे।”

उन्होंने कहा, “बेंगलुरु के आसपास कम से कम चार नए बेंगलुरु बनाए जाने हैं और इनके बीच में हमारे पास विभिन्न प्रकार की गतिविधियाँ हो सकती हैं जैसे कि स्वास्थ्य शहर और एकीकृत औद्योगिक टाउनशिप, जिसमें एयरोस्पेस व रक्षा से संबंधित उद्योग सम्मिलित हैं।”

उनके मुताबिक, इन उपग्रह शहरों में तमाम सुविधाएँ होंगी। नव कर्नाटक डिंडा नव भारत (नए कर्नाटक के माध्यम से नया भारत) का नया नारा प्रस्तुत करते हुए बोम्मई ने कहा कि वे राज्य में छह नए एकीकृत शहरों की योजना बना रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार विद्यार्थियों के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों की तर्ज पर कर्नाटक के छह प्रौद्योगिकी संस्थान बनाएगी।

कावेरी नदी के पार मेकेदातु संतुलन जलाशय परियोजना के संबंध में, जिसका निचला तटवर्ती राज्य तमिलनाडु विरोध कर रहा है, मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा, “हम जल्द डीपीआर तैयार कर लेंगे और पर्यावरण स्वीकृति की प्रक्रिया शुरू की जाएगी इसलिए मैंने राशि (2022-23 के बजट में 1,000 करोड़) रखी है। मुझे विश्वास है कि हम इसी वर्ष मेकेदातु परियोजना शुरू करेंगे। एक बार यह हो जाने के बाद बेंगलुरु के लिए एक दीर्घकालिक योजना बनाई जा सकती है।