समाचार
कर्नाटक में 23 छात्राओं का हिजाब पहनने की अनुमति को लेकर प्रदर्शन, निलंबित

कर्नाटक के मेंगलुरु में उप्पिनंगडी गवर्नमेंट फर्स्ट ग्रेड कॉलेज प्रबंधन ने 23 छात्राओं को निलंबित कर दिया। दरअसल, उन्होंने गत सप्ताह कक्षाओं के अंदर हिजाब पहनने की अनुमति की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था।

पीटीआई-भाषा से पुत्तूर के भाजपा विधायक और कॉलेज विकास समिति (सीडीसी) के अध्यक्ष संजीव मतंदूर ने मंगलवार को कहा, “छात्राओं ने प्रदर्शन किया इसलिए उन्हें सोमवार को निलंबित कर दिया गया।”

सूत्रों के मुताबिक, गत सप्ताह छात्राएँ दक्षिण कन्नड़ जिले के पुत्तूर तालुक स्थित कॉलेज में हिजाब पहनकर आईं और सिर पर स्कार्फ पहनने की अनुमति की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन करने लगीं।

सीडीसी ने सोमवार को बैठक कर उन्हें निलंबित करने का निर्णय किया। पैनल ने सात छात्राओं को हिजाब के साथ कॉलेज आने पर निलंबित कर दिया।

इस वर्ष मार्च में कर्नाटक उच्च न्यायालय के निर्णय के बावजूद छात्राएँ हिजाब पहनने पर जोर दे रही हैं। न्यायालय ने कर्नाटक सरकार के उस आदेश को भी बरकरार रखा, जिसमें शिक्षा संस्थानों के अंदर किसी भी पोशाक पर प्रतिबंध लगा दिया गया था, जो शांति और सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ सकते हैं।

यह निर्णय तब आया था, जब उडुपी के तटीय जिले में एक सरकारी प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज की कुछ छात्राओं ने हिजाब के साथ कक्षाओं में जाने पर प्रतिबंध लगाने के बाद उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था क्योंकि विरोध में कुछ हिंदू छात्र भगवा गमछा पहनकर कॉलेज आने लगे थे।