शिक्षा-नौकरी
सीबीएसई विद्यालयों में ‘भाषा संगम’, विद्यार्थी सीखेंगे 22 अनुसूचित भाषाएँ

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के भाषा संगम प्रयास के अंतर्गत देशभर के केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के विद्यालयों में विद्यार्थियों को भारतीय संविधान की अनुसूची 8 में उल्लेखित 22 अनुसूचित भाषाओं में आधारभूत शिष्टाचार और सामान्य वार्ता वाक्यों से परिचित कराया जाएगा, द ट्रिब्यून  ने रिपोर्ट किया।

मंत्रालय ने अपने भाषा संगम प्रयास में सभी राज्यों के शिक्षा सचिवों, सीबीएसई के अध्यक्ष व केंद्रीय विद्यालय संगठन के आयुक्त को निर्देश दिए हैं कि प्रतिदिन विद्यार्थियों को अनुसूचित भारतीय भाषाओं के पाँच वाक्य सिखाए जाएँ।

भाषा संगम विद्यालयों और शिक्षण संस्थानों के लिए एक कार्यक्रम है जिसका उद्देश्य विद्यार्थियों को अनुसूची 8 की भाषाओं से परिचित कराना है। इस संबंध में सीबीएसई ने सभी विद्यालयों को निर्देश जारी कर दिया है कि वे 27 नवंबर से 21 दिसंबर तक प्रतिदिन इस प्रकार का कार्यक्रम आयोजित करें।

विद्यालयों से अपेक्षा है कि विद्यार्थियों को इन भाषाओं से परिचित कराने के लिए वे किसी शिक्षक, अभिभावक, सरकारी कर्मचारी या आम नागरिक को प्रातः सभा में आमंत्रित करें जो उस भाषा के विषय में थोड़ा-बहुत ज्ञान रखता हो और वे पाँच वाक्यों का विद्यार्थियों को प्रयास कराएँ।

मंत्रालय योजना के अंतर्गत इस भाषाई अभ्यास के फोटो व वीडियो के आधार पर सर्वश्रेष्ठ विद्यालय, खंड, जिले और राज्य को पुरस्कृत भी करेगा।