समाचार
सांसद डेविड एमेस की हत्या के पीछे इस्लामी कट्टरवाद था संभावित कारण- ब्रिटिश पुलिस

पुलिस अधिकारियों ने कहा कि ब्रिटिश संसद सदस्य डेविड एमेस की हत्या के पीछे इस्लामी कट्टरवाद संभावित कारण था। 69 वर्षीय सांसद कंज़रवेटिव पार्टी के थे और 1997 से साउथेंड वेस्ट के निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते आ रहे थे।

शुक्रवार (15 अक्टूबर) को वे अपने निर्वाचन क्षेत्र के लिए एक कार्यक्रम में थे। उसी दौरान एक व्यक्ति इमारत में घुसा और उसने उनपर कई बार चाकुओं से हमला कर दिया। ऐसा प्रतीत होता है कि आरोपी को यूके पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है लेकिन फिर भी कहा जा रहा है कम से कम दो स्थानों पर मामले को लेकर तलाशी ली जा रही है।

इस घटना को आधिकारिक तौर पर आतंकवाद के रूप में घोषित किया गया और हत्या के पीछे इस्लामी मंशा की पुष्टि की गई है।

गत 5 वर्षों में डेविड एमेस संसद के दूसरे सदस्य हैं, जिनकी हत्या कर दी गई। लेबर पार्टी के एक सांसद की भी 2016 में इसी तरह की एक निर्वाचन क्षेत्र की बैठक के दौरान चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी।

इसके अतिरिक्त, 2010 में स्टीफन टिम्स नाम के एक अन्य लेबर सांसद को चाकू मार दिया गया था लेकिन वे हमले में बच गए। डेविड एमेस एक कैथोलिक प्रैक्टिशनर थे और उन्होंने ब्रिटेन के यूरोप से बाहर निकलने का समर्थन किया। वह अपने पीछे चार बेटियाँ, एक बेटा और अपनी पत्नी छोड़ गए हैं।