समाचार
आर्कियन केमिकल इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड ने सेबी के पास आईपीओ दस्तावेज दमा कराए

आर्कियन केमिकल इंडस्ट्रीज सार्वजनिक होने की योजना बना रही है और इसके लिए भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) से उसने स्वीकृति मांगी है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी ने सेबी के पास 2,200 करोड़ रुपये के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के दस्तावेज जमा कराए हैं।

आर्कियन विशेष प्रकार के समुद्री रसायन की विनिर्माता कंपनी है। आईपीओ के तहत 1,000 करोड़ रुपये के नये शेयर जारी किए जाएँगे।

इसके अतिरिक्त कंपनी के प्रवर्तक और निवेशक 1.9 करोड़ शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) लाएँगे। इनमें इंडिया रिसर्जेंस फंड भी सम्मिलित है, जो पीरामल समूह और बेन कैपिटल का संयुक्त उद्यम है।

सूत्रों का कहना है कि कंपनी आईपीओ से 2,000 से 2,200 करोड़ रुपये जुटा सकती है। वह इस राशि का उपयोग अपने ऋण के बोझ को कम करने के लिए करेगी।

संचालन और शुद्ध लाभ से कंपनी का राजस्व वित्त वर्ष 2021 में क्रमशः 740.6 करोड़ रुपये और 66.61 करोड़ रुपये रहा है। बता दें कि आर्कियन ब्रोमाइन, औद्योगिक नमक और सल्फेट ऑफ पोटाश की प्रमुख उत्पादक और निर्यातक कंपनी है।