समाचार
सेना दिवस पर प्रधानमंत्री बोले- “सैनिकों के अमूल्य योगदान का शब्दों में भी वर्णन नहीं”

सेना दिवस के अवसर पर शनिवार (15 जनवरी) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय सेना के जवानों, पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों को शुभकामनाएँ दीं।

भारतीय सेना के साहस और दक्षता को स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए उनके अमूल्य योगदान का वर्णन शब्दों के माध्यम से भी नहीं किया जा सकता है।

उन्होंने ट्वीट्स की एक शृंखला में कहा, “सेना दिवस के अवसर पर शुभकामनाएँ। विशेष रूप से हमारे साहसी सैनिकों, सम्मानित दिग्गजों और उनके परिवारों को। भारतीय सेना अपने साहस और दक्षता के लिए जानी जाती है। शब्द भी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए उनके अमूल्य योगदान का वर्णन नहीं कर सकते हैं।”

उन्होंने मानवीय संकट के दौरान साथी नागरिकों की सहायता करने में सेना की भूमिका को भी स्वीकार किया। प्रधानमंत्री मोदी ने विदेशों में शांति अभियानों में भारतीय सेना के तारकीय योगदान पर भी प्रकाश डाला।

प्रधानमंत्री ने कहा, “भारतीय सेना के जवान प्रतिकूल क्षेत्रों में सेवा करते हैं और प्राकृतिक आपदाओं सहित मानवीय संकट के दौरान साथी नागरिकों की सहायता करने में सबसे आगे रहते हैं। भारत को विदेशों में भी शांति अभियानों में सेना के शानदार योगदान पर गर्व है।”