समाचार
भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत पर बेंगलुरु में फेंकी गई स्याही, तीन गिरफ्तार

भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत पर सोमवार (30 मई) को बेंगलुरु में प्रेसवार्ता के दौरान एक व्यक्ति ने काली स्याही फेंक दी। इसके बाद आरोपी ने भागने का प्रयास किया लेकिन लोगों ने उसे पकड़ लिया और उसकी पिटाई कर दी।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, घटना के बाद राकेश टिकैत ने संवाददाताओं के सामने इसे सरकार का षड्यंत्र बताया। उन्होंने कहा, “स्थानीय पुलिस की ओर से यहाँ कोई सुरक्षा मुहैया नहीं करवाई गई। यह सरकार की मिलीभगत से किया गया है। सुरक्षा की ज़िम्मेदारी स्थानीय पुलिस की होती है।”

कहा जा रहा है कि इसके पीछे किसान नेता कोडिहल्ली चंद्रशेखर हैं और उनके समर्थकों ने ही घटना को अंजाम दिया है। संवाददाताओं ने जैसे ही चंद्रशेखर को लेकर जैसे ही राकेश टिकैत से प्रश्न पूछा तो वहाँ उपस्थित चंद्रशेखर के समर्थक भड़क गए और उसमें से एक ने स्याही फेंक दी।

बेंगलुरु के हाई ग्राउंड्स पुलिस स्टेशन के मुताबिक, गांधी भवन में स्याही फेंकने के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया।

बता दें कि बीकेयू कथित तौर पर आंतरिक कलह का सामना कर रहा है। पदाधिकारी राकेश टिकैत और नरेश टिकैत पर स्वर्गीय चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत की विचारधारा से भटकने का आरोप लगा रहे हैं, जो अंततः संगठन में विभाजन का कारण बना है।