इन्फ्रास्ट्रक्चर
जियो से प्रतिस्पर्धा में आगे बने रहने के लिए वोडाफोन आइडिया की नई रणनीति

आइडिया और वोडाफोन की संधि के बाद यह देश की सबसे बड़ा दूरसंचार सेवा प्रदाता बन चुका है लेकिन इस पायदान परबने रहने के लिए इस कई सुधारों की आवश्यकता है।

सितंबर तिमाही में जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार कंपनी 4,974 करोड़ रुपए के घाटे में चल रही है जिससे उबरने के लिए यह प्रति उपभोक्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) को बढ़ाने की ओर लक्ष्य कर रही है। एयरटेल की एआरपीयू 101 रुपए और जियो की 133 रुपए है जबकि वोडाफोन की प्रति उपभोक्ता से 88 रुपए की आय ही होती है।

सी ई ओ बोलेंदु शर्मा ने बताया कि सभी ग्राहकों को बिलिंग साइकल में लाने का प्रयास किया रहा है। अर्थात् अब सभी उपभोक्ताओं को अपना नंबर जारी रखने के लिए न्यूनतम रिचार्ज करवाना पड़ेगा जिससे कंपनी का राजस्व बढ़ेगा।

वर्तमान में वोडाफोन आइडिया के 42.2 करोड़ ग्राहक हैं। अपना ग्राहक बेस बढ़ाने के लिए कंपनी 4जी नेटवर्क के विस्तार पर भी निवेश कर रही है।