इन्फ्रास्ट्रक्चर
अब योजनाएँ शक्तिहीन नहीं- एन डी ए सरकार ने यू पी ए-2 की अपेक्षा प्रति दिन बनाए दुगने राजमार्ग

वर्तमान नरेंद्र मोदी सरकार ने साढ़े चार सालों में 33,000 किलोमीटर से अधिक राजमार्गों का निर्माण किया है और  यू पी ए द्वारा सात सालों में जितना निर्माण होता, यह आँकड़ा उससे अधिक है, फाइनेंशियल एक्सप्रेस  ने रिपोर्ट किया।

एन डी ए ने 33,361 किलोमीटर सड़कों का निर्माण किया है, जो यू पी ए द्वारा 2008 से 2014 तक किए गए निर्माण कार्य से थोड़ा अधिक है। सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी द्वारा तय लक्ष्य महत्त्वाकंक्षी था। पिछले वर्ष प्रतिदिन 40 किलोमीटर का लक्ष्य था जो इस वर्ष बढ़ाकर 45 किलोमीटर प्रतिवर्ष कर दिया गया था।

यू पी ए-2 के आखिरी वर्ष तक परिणाम 11.7 किलोमीटर प्रतिदिन तक गिर गए थे लेकिन वित्तीय वर्ष 2018 में यह उसके दुगने से अधिक है, लेकिन फिर भी मंत्री के महत्त्वाकांक्षी लक्ष्य से दूर है।

वर्तमान सरकार के पहले चार वर्षों में 51,073 किलोमीटर राजमार्ग परियोजनाओं की घोषणा हुई, यू पी ए के अंतिम चार वर्षों में प्राप्त लक्ष्य से दुगना। 2018-19 में 20,000 सड़कों को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है जबकि 2017-18 में 17,055 किलोमीटर का लक्ष्य था।

सरकार ने सड़क निर्माण प्रगति को सुनिश्चित करने के लिए कई प्रयास किए हैं। पी पी पी मॉडल को पुनर्जीवित करने के लिए हाइब्रिड वार्षिक मॉडल लाया गया जिसके अनुसार सरकार कुल खर्च का 40 प्रतिशत वहम करती है।

सरकार ने विकासकों के लिए निकास नीति को भी आसान कर दिया है, अब उनकी पूंजी के जल्द मुक्त होने से वे त्वरित रूप से दूसरी परियोजनाओं पर कार्य आरंभ कर सकते हैं।