समाचार
भारत का अक्टूबर में कुल निर्यात 35.16 प्रतिशत बढ़कर 56.51 अरब डॉलर हुआ

वाणिज्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “अक्टूबर 2021 में भारत का कुल निर्यात (वस्तुओं और सेवाओं को मिलाकर) 56.51 अरब डॉलर होने का अनुमान है, जो गत वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 35.16 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि और अक्टूबर 2019 की तुलना में 29.13 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि दर्शाता है।”

मंत्रालय ने कहा कि अक्टूबर 2021 में कुल आयात 68.09 अरब डॉलर होने का अनुमान है, जो गत वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 57.32 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि और अक्टूबर 2019 की तुलना में 40.82 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि दर्शाता है।

मंत्रालय द्वारा जारी आँकड़ों के अनुसार, अक्टूबर में भारत का व्यापारिक निर्यात 43 प्रतिशत बढ़कर 35.65 अरब डॉलर हो गया, जबकि व्यापार घाटा महीने के दौरान बढ़कर 19.73 अरब डॉलर हो गया।

व्यापार घाटे को बढ़ाते हुए व्यापारिक आयात 62.51 प्रतिशत बढ़कर 55.37 अरब डॉलर हो गया।

आँकड़े बताते हैं कि अक्टूबर के दौरान सकारात्मक वृद्धि दर्ज करने वाले निर्यात क्षेत्रों में पेट्रोलियम, कॉफी, इंजीनियरिंग सामान, सूती धागे-फैब-मेड-अप, रत्न व आभूषण, रसायन प्लास्टिक व लिनोलियम और समुद्री उत्पाद सम्मिलित हैं।

संचयी रूप से अप्रैल-अक्टूबर 2021 के दौरान व्यापारिक निर्यात 233.54 अरब डॉलर रहा, जो गत वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 55.13 प्रतिशत की वृद्धि है। इसी अवधि के दौरान माल का आयात 78.16 प्रतिशत से बढ़कर 331.39 अरब डॉलर हो गया, जिससे व्यापार घाटा 97.85 अरब डॉलर हो गया।

अक्टूबर में तेल आयात बढ़कर 14.43 अरब डॉलर हो गया, जो गत वर्ष इसी माह में 6 अरब डॉलर था। अप्रैल-अक्टूबर 2021 के दौरान आयात बढ़कर 87.42 अरब डॉलर हो गया।

समीक्षाधीन महीने में सोने का आयात 2.5 अरब डॉलर से दोगुना होकर 5.1 अरब डॉलर हो गया।

अक्टूबर में कुल निर्यात में 28.19 प्रतिशत की हिस्सेदारी रखने वाले इंजीनियरिंग सामानों की आउटवर्ड शिपमेंट वार्षिक आधार पर करीब 51 प्रतिशत बढ़कर 9.4 अरब डॉलर हो गई। पेट्रोलियम उत्पादों का निर्यात भी 5.33 अरब डॉलर पर पहुँच गया।

रत्न और आभूषण निर्यात 44.24 प्रतिशत बढ़कर 4.22 अरब डॉलर हो गया।