समाचार
भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 28.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 640.401 अरब डॉलर हुआ

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 19 नवंबर को समाप्त सप्ताह के दौरान 28.9 करोड़ डॉलर बढ़ गया है।

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) के साप्ताहिक सांख्यिकीय पूरक के अनुसार, विदेशी मुद्रा भंडार 12 नवंबर को समाप्त सप्ताह में 640.112 अरब डॉलर से बढ़कर 640.401 अरब डॉलर हो गया है।

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए), स्वर्ण भंडार, विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) और अंतर-राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ देश की आरक्षित स्थिति सम्मिलित है।

साप्ताहिक आधार पर विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक एफसीए 22.5 करोड़ डॉलर बढ़कर 575.712 अरब डॉलर हो गया।

डॉलर के संदर्भ में व्यक्त की गईं विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में गैर-अमेरिकी इकाइयों जैसे यूरो, पाउंड, और येन में वृद्धि और गिरावट का असर सम्मिलित होता है, जो विदेशी मुद्रा भंडार में रखे गए हैं।

इसी प्रकार, देश के सोने के भंडार का मूल्य 15.2 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.391 अरब डॉलर हो गया है। हालाँकि, एसडीआर मूल्य 7.4 करोड़ डॉलर घटकर 19.110 अरब डॉलर हो गया है।

इस बीच, आईएमएफ के साथ देश की आरक्षित स्थिति 1.3 करोड़ डॉलर घटकर 5.188 अरब डॉलर हो गई।