समाचार
भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 2.762 अरब डॉलर बढ़कर 632.952 अरब डॉलर हुआ

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 18 फरवरी को समाप्त सप्ताह के दौरान 2.762 अरब डॉलर बढ़ गया।

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) के साप्ताहिक सांख्यिकीय पूरक के अनुसार, विदेशी मुद्रा भंडार 11 फरवरी को समाप्त सप्ताह के लिए बताए गए 630.190 अरब डॉलर से बढ़कर 632.952 अरब डॉलर हो गया।

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए), स्वर्ण भंडार, विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) और अंतर-राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ देश की आरक्षित स्थिति सम्मिलित है।

साप्ताहिक आधार पर विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक एफसीए 1.496 अरब डॉलर बढ़कर 567.060 अरब डॉलर हो गया।

डॉलर के संदर्भ में व्यक्त की गईं विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में गैर-अमेरिकी इकाइयों जैसे यूरो, पाउंड, और येन में वृद्धि और गिरावट का असर सम्मिलित होता है, जो इसमें रखे गए हैं।

इसी प्रकार, देश के सोने के भंडार का मूल्य 1.274 अरब डॉलर बढ़कर 41.509 अरब डॉलर हो गया है। हालाँकि, एसडीआर मूल्य 1.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 19.162 अरब डॉलर हो गया है।

इसी तरह, आईएमएफ के साथ देश की आरक्षित स्थिति 40 लाख डॉलर बढ़कर 5.221 बिलियन डॉलर हो गई।