समाचार
भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.919 अरब डॉलर बढ़कर 642.019 अरब डॉलर हुआ

29 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.919 अरब डॉलर बढ़ गया।

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) के साप्ताहिक सांख्यिकीय पूरक के अनुसार, 22 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में रिपोर्ट किए गए 640.1 अरब डॉलर से भंडार बढ़कर 642.019 अरब डॉलर हो गया।

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए), स्वर्ण भंडार, विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) और अंतर-राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ देश की आरक्षित स्थिति सम्मिलित है।

साप्ताहिक आधार पर विदेशी मुद्रा भंडार का सबसे बड़ा घटक एफसीए 1.363 अरब डॉलर से बढ़कर 578.462 अरब डॉलर हो गया।

डॉलर के संदर्भ में व्यक्त की गईं विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों में गैर-अमेरिकी इकाइयों जैसे यूरो, पाउंड, और येन में वृद्धि और गिरावट का असर सम्मिलित होता है, जो विदेशी मुद्रा भंडार में रखे गए हैं।

इसी तरह, देश के सोने के भंडार का मूल्य 57.2 करोड़ डॉलर बढ़कर 39.012 अरब डॉलर हो गया। हालाँकि, एसडीआर मूल्य 12.7 करोड़ डॉलर घटकर 19.304 अरब डॉलर हो गया।

इस बीच, आईएमएफ के साथ देश की आरक्षित स्थिति 10 लाख डॉलर बढ़कर 5.242 अरब डॉलर हो गई।