समाचार
असम के गुवाहाटी में भारत का पहला रोबोटिक सर्जन एसोसिएशन आरंभ किया गया

असम के उद्योग और वाणिज्य मंत्री चंद्र मोहन पटोवरी ने शनिवार को गुवाहाटी में एसोसिएशन ऑफ रोबोटिक एंड इनोवेटिव सर्जन (एआरआईएस) की औपचारिक शुरुआत की।

दि इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, एआरआईएस पहला भारतीय रोबोटिक सर्जन एसोसिएशन है।

एसोसिएशन का कहना है कि रोबोटिक सर्जरी भविष्यवादी है और उपकरण और सर्जिकल तकनीकों में किए गए आधुनिक विकास ने न्यूनतम घातक सर्जरी को लोकप्रिय बना दिया है।

ईटी ने असम के मंत्री पटोवरी के हवाले से कहा, “यह हम सभी के लिए एक और गर्व का क्षण है। यह जानकर बहुत प्रसन्नता हो रही है कि डॉ खन्ना संस्थापक अध्यक्ष हैं और हम उन्हें कई वर्षों से जानते हैं। हमें विश्वास है कि वे इस एसोसिएशन और रोबोटिक विज्ञान को और अधिक ऊँचाइयों पर ले जाएँगे। हमारे लोगों की देखभाल की गुणवत्ता में सुधार करेंगे।”

एआरआईएस ने आगे कहा कि रोबोटिक्स-असिस्टेड सर्जरी को विश्व स्तर पर स्वीकृति मिली है क्योंकि कई संस्थान सर्जरी के विभिन्न रूपों के मध्य यूरोलॉजिकल, गायनोकोलॉजिकल और न्यूरोलॉजिकल में अनुप्रयोगों के लिए मेडिकल रोबोटिक तकनीक में निवेश कर रहे हैं।

कथित तौर पर यह तकनीक पारंपरिक दृष्टिकोणों की तुलना में लंबी अवधि में लागत प्रभावी और अधिक परिणाम-उन्मुख हो सकती है।