समाचार
प्रथम बुलेट ट्रेन 2026 तक गुजरात के सूरत और बिलिमोरा के मध्य चलने की संभावना

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सोमवार (6 जून) को कहा, “सरकार 2026 तक गुजरात के सूरत और बिलिमोरा के मध्य भारत की पहली बुलेट ट्रेन चलाने का लक्ष्य बना रही है क्योंकि इस दिशा में अच्छी प्रगति देखने को मिल रही है।”

फ्री प्रेस जर्नल की रिपोर्ट में अश्विनी वैष्णव के हवाले से कहा गया, “अहमदाबाद और मुंबई के मध्य इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण में अच्छी प्रगति हुई है और कार्य तेज़ गति से किया जा रहा है।”

रेल मंत्री ने सूरत में मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना की प्रगति का निरीक्षण करने के बाद यह बात कही।

द ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “हम 2026 में सूरत और बिलिमोरा के मध्य पहली बुलेट ट्रेन चलाने का लक्ष्य रख रहे हैं। प्रगति बहुत अच्छी है और हमें उस समय तक ट्रेन चलने का भरोसा है।”

बिलिमोरा दक्षिण गुजरात के नवसारी जिले का एक शहर है और मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन मार्ग के 12 स्टेशनों में से एक है।

मंत्री ने बताया कि बुलेट ट्रेन ट्रैक के लिए 61 किलोमीटर दूर तक खंभों का निर्माण किया गया और करीब 150 किलोमीटर लंबे रूट पर एक साथ काम चल रहा है।

उन्होंने कहा कि सूरत बुलेट ट्रेन स्टेशन का काम 2024 तक पूरा होने की संभावना है।

सूरत के अतिरिक्त तीन और स्टेशनों वापी, बिलिमोरा और भरूच का भी कार्य ज़ोरों पर है और इसके 2024 तक पूरा होने की संभावना है।

उन्होंने कहा कि हर माह करीब 12 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए करीब 300 खंभे खड़े किए जा रहे हैं।