समाचार
भारत का कोयला उत्पादन वित्त वर्ष 2022 में 8.55% बढ़कर 77.72 करोड़ टन हुआ

वित्त वर्ष 2021-22 में भारत का कोयला उत्पादन 8.55 प्रतिशत बढ़कर 77.72 करोड़ टन हो गया है।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में शुक्रवार (1 अप्रैल) को कहा गया, “कोयला मंत्रालय के आँकड़ों के अनुसार, 2021-22 के दौरान कुल कोयला उत्पादन 77.72 करोड़ टन तक पहुँच गया है। वहीं, 2020-21 के दौरान 71.6 करोड़ टन था। इस तरह दोनों वर्षों की तुलना करने पर 8.55 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई है।

इस बीच, कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) का उत्पादन भी 2020-21 में 59.62 करोड़ टन से 4.43 प्रतिशत बढ़कर वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान 62.26 करोड़ टन हो गया है।

सिंगरेनी कोलियरीज कंपनी लिमिटेड (एससीसीएल) ने 2021-22 के दौरान 6.5 करोड़ टन उत्पादन किया, जो गत वर्ष 5.05 करोड़ टन की तुलना में 28.55 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करता है।

वहीं, कैप्टिव खानों का कोयला उत्पादन 29.47 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 8.95 करोड़ टन हो गया है। मंत्रालय ने कहा कि 2020-21 के दौरान यह केवल 6.92 करोड़ टन था।

2021-22 के दौरान कुल कोयला प्रेषण गत वर्ष के 69.07 करोड़ टन के आँकड़े के मुकाबले 81.80 करोड़ टन के आँकड़े को छू गया, जो 18.43 प्रतिशत की वृद्धि है।

मंत्रालय ने कहा कि इस अवधि के दौरान सीआईएल ने गत वर्ष के 57.38 करोड़ टन के आँकड़े के मुकाबले 66.18 करोड़ टन कोयला भेजा है।