समाचार
भारतीय रेलवे लगभग 1.5 लाख लोगों की भर्ती करने की प्रक्रिया में- रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने मंगलवार (14 जून) को कहा, “मंत्रालय करीब 1.5 लाख और लोगों की भर्ती करने की प्रक्रिया में है।”

अश्विनी वैष्णव ने ट्विटर पर जानकारी दी कि भारतीय रेलवे में 2014 और 2022 के मध्य प्रति वर्ष औसतन 43,000 से अधिक भर्तियों में लगभग 3.5 लाख लोगों की भर्ती की है।

उन्होंने ट्वीट किया, “2014-22 के मध्य भारतीय रेलवे में 3.5 लाख भर्तियाँ वार्षिक 43,000 से अधिक औसत के साथ। लगभग 1.5 लाख अतिरिक्त नई भर्तियाँ तेज गति से प्रक्रिया में है।”

यह कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अगले 18 महीनों में विभिन्न केंद्रीय विभागों और मंत्रालयों में 10 लाख लोगों की भर्ती करने के निर्देश के बाद उठाया गया है।

वेतन और भत्तों पर व्यय विभाग की नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, 1 मार्च, 2020 तक पद पर (केंद्र शासित प्रदेशों सहित) नियमित केंद्र सरकार के नागरिक कर्मचारियों की कुल संख्या, स्वीकृत संख्या 40.78 लाख के मुकाबले 31.91 लाख थी और लगभग 21.75 प्रतिशत पद खाली थे।

रिपोर्ट में कहा गया कि कुल जनशक्ति का लगभग 92 प्रतिशत 5 प्रमुख मंत्रालयों या विभागों- रेलवे, रक्षा (नागरिक), गृह मामलों, पदों और राजस्व के अंतर्गत आता है।

रिपोर्ट के अनुसार, 31.33 लाख (केंद्र शासित प्रदेशों को छोड़कर) की कुल संख्या में रेलवे का प्रतिशत भाग 40.55, गृह मामलों का 30.50, रक्षा (सिविल) का 12.31 और पोस्ट का हिस्सा 5.66 है।