समाचार
भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश में एलएसी पर अग्रिम क्षेत्रों में बोफोर्स तोपें तैनात कीं

चीन के साथ तनाव को देखते हुए भारतीय सेना ने बुधवार (20 अक्टूबर) को अरुणाचल प्रदेश में एलएसी पर अग्रिम क्षेत्रों में बोफोर्स तोपें तैनात कर दी हैं। इससे पहले, पूर्वी लद्दाख की तरफ भी बोफोर्स तोपें तैनात की गई थीं।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने भारत के साथ वार्ता की आड़ में सीमा पर 100 से अधिक आधुनिक रॉकेट लॉन्चर तैनात किए हैं। यही नहीं, उन्होंने एलएसी के निकट 155 एमएम कैलिबर की पीसीएल-181 स्वचालित हॉवित्जर को भी तैनात किया है।

ड्रैगन देश का दावा है कि उसके पीसीएल-181 हॉवित्जर की गोलीबारी सीमा एम777 से दोगुनी है। 155 एमएम कैलिबर की पीसीएल-181 हॉवित्जर को लद्दाख के आसपास के क्षेत्रों में तैनात किया गया।

चीनी मीडिया का दावा है कि कुछ दिनों पूर्व इसके एक उन्नत संस्करण को लद्दाख के पास तैनात किया गया था। यह हॉवित्जर 122 मिमी-कैलिबर बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि पीएलए सेना हिमालय की रक्त जमा देने वाली सर्दियों की तैयारियाँ कर रही है।

बता दें कि भारतीय सेना ने अपने विमानन विंग के वायु अग्नि शक्ति को भी सशक्त बनाया है। सेना ने हेरान आई ड्रोन, हथियारबंद अटैक हेलीकाप्टर रुद्र और ध्रुव की तैनाती की है। ध्रुव के स्क्वॉड्रन को एलएसी से लगे क्षेत्रों में तैनात किया गया।