समाचार
चीन की बराबरी हेतु 2022 तक सीमा पर भारत तैनात करेगा दो एस-400 मिसाइल सिस्टम

चीन से तनाव के बीच भारत 2022 तक उत्तर व पूर्वी सीमा पर एस-400 मिसाइल सिस्टम के कम से कम दो सैन्य दल तैनात करने की तैयारी कर रहा है। कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के करीबी संबंधों के चलते भारत को दो एस-400 मिसाइल सिस्टम कम समय में मिल गए हैं।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, मॉस्को में राजनयिकों ने बताया कि एस-400 सिस्टम के अग्रिम तत्व भारत को मिलना शुरू हो गए हैं। गहराई तक काम करने में सक्षम राडार भी अगले माह मिलने जा रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, दो एस-400 सिस्टम 2022 की शुरुआत तक संचालित हो सकेंगे। रूस में प्रशिक्षण हासिल करने वाले भारतीय सेना के दो दल एस-400 सिस्टम के संचालन के लिए तैयार हैं। विशेष बात है कि यह दुश्मन के क्षेत्र में 400 किमी तक मार कर सकता है।

बता दें कि चीन की सेना ने लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास इसी रूसी तकनीक से लैस मिसाइल सिस्टम को तैनात किया है। ऐसे में इस आधुनिक सिस्टम के माध्यम से भारतीय सेना सीमा पर चीन की सेना की क्षमता की बराबरी कर सकेगी।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी 6 दिसंबर को भारत का दौरा कर रहे हैं। इस दौरान वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी भेंट करेंगे।