समाचार
भारत आयातक नहीं निर्यातक बन रहा, शीघ्र 90% रक्षा उत्पादों का होगा निर्माण- रक्षा मंत्री

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि भारत शीघ्र ही देश के भीतर 90 प्रतिशत रक्षा उत्पादों का निर्माण करेगा। 2024-2025 तक देश 5 अरब अमेरिकी डॉलर के ऐसे उत्पादों का निर्यात भी करेगा।

उन्होंने झांसी में राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व में सभा को संबोधित करते हुए कहा, “पूर्व में 65-70 प्रतिशत रक्षा उत्पादों का आयात किया जाता था। जैसा कि अब हम आत्मनिर्भर भारत की ओर बढ़ रहे हैं, 65 प्रतिशत रक्षा उत्पाद भारत में बनते हैं। हम पहले (रक्षा उपकरणों के) आयातक के रूप में जाने जाते थे, अब हम 70 देशों में निर्यात कर रहे हैं।”

रक्षा मंत्री ने कहा, “2024-2025 तक हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा निर्धारित 5 अरब अमेरिकी डॉलर के रक्षा उत्पादों के निर्यात के लक्ष्य को प्राप्त करेंगे। मैं उन्हें आश्वस्त कर सकता हूँ कि 90 प्रतिशत रक्षा उत्पाद शीघ्र ही भारत में बनेंगे।”

इससे पूर्व, उन्होंने रानी लक्ष्मीबाई को श्रद्धाँजलि अर्पित की और कहा कि एक समय था, जब भारत दुनिया में सबसे अधिक रक्षा उपकरण खरीदने वाले देशों में गिना जाता था लेकिन आज प्रधानमंत्री के प्रयासों से स्थिति बदल गई है।

बुधवार को झांसी में शुरू हुए राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व के अंतिम दिन समापन सत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में रक्षा मंत्री ने कहा कि महिला सशक्तिकरण की उनकी पहल के कारण सेना में महिलाओं की भर्ती की जा रही है।

उन्होंने कहा, “सरकार रानी लक्ष्मीबाई से प्रेरणा लेकर विभिन्न क्षेत्रों के साथ सेना में भी महिलाओं की भागीदारी बढ़ा रही है। जब मैं गृह मंत्री था, तब मैंने सभी राज्यों को एक परामर्श जारी किया था कि सुरक्षाबलों में महिलाओं को 33 प्रतिशत प्रतिनिधित्व दिया जाना चाहिए। अब स्थिति बदल गई है। सभी पुलिस और अर्धसैनिक बलों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ी है।”