समाचार
डीआरडीओ ने सुपरसोनिक मिसाइल असिस्टेड ऑफ टॉरपीडो का सफल परीक्षण किया

भारत ने सोमवार (13 दिसंबर) को ओडिशा में बालासोर के तट पर लंबी दूरी की सुपरसोनिक मिसाइल असिस्टेड ऑफ टॉरपीडो (स्मार्ट) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। यह परीक्षण रक्षा विकास एवं अनुसंधान संगठन (डीआरडीओ) द्वारा किया गया।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, डीआरडीओ ने बताया कि टॉरपीडो की पारंपरिक सीमा से कहीं अधिक एंटी सबमरीन वारफेयर क्षमता बढ़ाने हेतु इस सिस्टम को डिज़ाइन किया गया। यह एक ऐसा सिस्टम है, जिसमें टॉरपीडो के साथ मिसाइल भी होती है।

आगे बताया गया कि स्मार्ट एक प्रकार की एंटी शिप मिसाइल है, जिसमें कम वजन का एक टॉरपीडो लगाया जाता है। इसका उपयोग पेलोड की तरह होता है। इन दोनों की शक्ति से ये एक एंटी-सबमरीन मिसाइल बन जाती है। इससे भारतीय नौसेना की समुद्र में युद्ध शक्ति और विध्वंसक हो सकती है।

डीआरडीओ ने बताया कि परीक्षण के दौरान मिसाइल की सभी क्षमताओं का सफलतापूर्वक प्रदर्शन देखने को मिला। इस उन्नत मिसाइल प्रणाली के लिए डीआरडीओ की कई प्रयोगशालाओं ने विभिन्न प्रौद्योगिकियाँ विकसित की हैं।