समाचार
“शांति की बात करने वाला पाकिस्तान लादेन को शहीद बताता”- यूएन में भारत का जवाब

संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) के 76वें सत्र में भारत ने उत्तर देने के अधिकार के तहत पहली समिति सामान्य बहस में आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान को पुनः फटकार लगाई।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन में पार्षद ए अमरनाथ ने कहा, “पाकिस्तान के स्थाई प्रतिनिधि शांति की बात करते हैं, जबकि उनके प्रधानमंत्री ओसामा बिन लादेन जैसे आतंकवादियों का महिमामंडन करते हैं। उसे शहीद का दर्जा देते हैं।”

उन्होंने कहा, “वैश्विक आतंकवाद के केंद्र के रूप में पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र के सिद्धांतों की परवाह किए बिना बार-बार पड़ोसियों के विरुद्ध सीमा पर आतंकवाद में सम्मिलित रहा है। इस्लामाबाद बहुपक्षीय मंचों से झूठ के प्रसार का प्रयास कर रहा। इस तरह के कृत्य सामूहिक अवमानना ​​​​के पात्र हैं।”

ए अमरनाथ ने कहा, “पड़ोसी देश ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के संबंध में कई निराधार आरोप लगाए हैं। ये प्रतिक्रिया के योग्य नहीं क्योंकि वे भारत के आंतरिक मामलों से संबंधित हैं। मैं दोहराना चाहूँगा कि जम्मू-कश्मीर का पूरा क्षेत्र भारत का अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा था, है और रहेगा। इसमें वह क्षेत्र भी सम्मिलित है, जो उसके अवैध कब्जे में है।”

बता दें कि इससे पूर्व, भारत की प्रथम सचिव स्नेहा दुबे ने महासभा में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को उत्तर देते हुए फटकारा था।