समाचार
भारत-रूस का संयुक्त सैन्य अभ्यास इंद्र-2021 रूस के वोल्गोग्राड में 1 से 13 अगस्त तक

आपसी विश्वास और पारस्परिकता को बढ़ावा देने के लिए 200 से अधिक भारतीय और रूसी सशस्त्र बल के जवान रूस में 1 से 13 अगस्त तक होने वाले संयुक्त सैन्य अभ्यास में भाग लेंगे। इंद्र-2021 नाम का यह अभ्यास वोल्गोग्राड में आयोजित किया जाएगा।

रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार (27 जुलाई) को एक बयान में कहा, “सैन्य अभ्यास इंद्र-2021 के 12वें संस्करण में अंतरराष्ट्रीय आतंकी समूहों के विरुद्ध एक संयुक्त बल द्वारा संयुक्त राष्ट्र के आदेश के तहत आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया जाएगा।”

आगे कहा गया कि दोनों देशों के 250 से अधिक जवान इस संयुक्त अभ्यास का हिस्सा बनेंगे। भारतीय सेना की टुकड़ी, जिसमें एक यांत्रिक पैदल सेना बटालियन सम्मिलित है, ने इसका हिस्सा बनने लेने के लिए अपने अभ्यास को परिष्कृत करने को भारत में विभिन्न स्थानों पर कठोर प्रशिक्षण लिया है।

मंत्रालय ने कहा कि इंद्र-2021 अभ्यास भारतीय और रूसी सेनाओं के बीच आपसी विश्वास एवं पारस्परिकता को और सशक्त बनाएगा। यह दोनों देशों की टुकड़ियों के बीच सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करने में भी सक्षम होगा।

यह अभ्यास सुरक्षा सहयोग को सशक्त बनाने में एक और मील का पत्थर साबित होगा। साथ ही भारत और रूस के बीच लंबे समय से मित्रता के संबंध को सशक्त बनाने का काम करेगा।