समाचार
ओडिशा में पहली स्वदेशी वायु-प्रक्षेपित नौसैनिक एंटी शिप मिसाइल का सफल परीक्षण

भारतीय नौसेना ने बुधवार (18 मई) को ओडिशा के तट पर स्वदेश में विकसित पहली नौसैनिक एंटी-शिप मिसाइल का सफल परीक्षण किया।

परीक्षण ओडिशा के बालासोर में एकीकृत परीक्षण रेंज में किया गया। मिसाइल को सीकिंग 42बी नौसैनिक हेलीकॉप्टर से दागा गया था।

परीक्षण भारतीय नौसेना द्वारा रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के सहयोग से आयोजित किया गया था।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया, “यह परीक्षण विशिष्ट मिसाइल प्रौद्योगिकी में आत्मनिर्भरता प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है और स्वदेशीकरण के लिए भारतीय नौसेना की प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है।”

यह भारतीय नौसेना के लिए पहली स्वदेशी एयर-लॉन्च एंटी-शिप मिसाइल सिस्टम है। यह मिसाइल सी-स्किमिंग ट्रैजेक्ट्री पर चलते हुए सीधे लक्ष्य से जाकर टकराई।

सभी उप-प्रणालियों ने संतोषजनक प्रदर्शन किया। परीक्षण रेंज और निकट प्रभाव बिंदु पर तैनात सेंसर ने मिसाइल प्रक्षेपवक्र को ट्रैक किया और सभी घटनाओं को एकत्रित किया।

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “मिसाइल ने हेलीकॉप्टर के लिए स्वदेशी रूप से विकसित लॉन्चर सहित कई नई तकनीकों का उपयोग किया। मिसाइल मार्गदर्शन प्रणाली में अत्याधुनिक नौवहन सिस्टम और एकीकृत वैमानिकी सम्मिलित हैं।”

उड़ान परीक्षण को डीआरडीओ और भारतीय नौसेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने देखा।