समाचार
भारत 2021 की पहली छमाही में दुबई का दूसरा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार बना

भारत 2021 की पहली छमाही में 38.5 अरब दिरहम के कुल व्यापार के साथ दुबई का दूसरा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार बन गया।

दुबई सरकार के एक बयान के अनुसार, भारत इस मामले में केवल चीन से पीछे है और अमेरिका से आगे है, जो कि तीसरे स्थान पर है।

दुबई ने चालू वर्ष की पहली छमाही में चीन के साथ 86.7 अरब दिरहम का व्यापार किया। इसी तरह, इस अवधि में अमेरिका के लिए यह आँकड़ा 32 अरब दिरहम है।

सऊदी अरब और स्विट्ज़रलैंड अमेरिका का अनुसरण करते हैं क्योंकि दुबई ने 2021 की पहली छमाही में उनके साथ क्रमशः 30.5 अरब दिरहम और 24.8 अरब दिरहम का व्यापार किया है।

बताई गई अवधि में दुबई के बाहरी व्यापार से संबंधित सूची में सोना, दूरसंचार और हीरे सबसे ऊपर हैं। इसी प्रकार इस वर्ष की पहली छमाही में मध्य-पूर्वी देश का गैर-बाहरी व्यापार 31 प्रतिशत बढ़कर 722.3 अरब दिरहम हो गया।

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट में क्राउन प्रिंस शेख हमदान बिन मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम के हवाले से कहा गया, “दुबई के मौजूदा समुद्री और हवाई नेटवर्क का विस्तार विश्व भर के 200 नए शहरों को कवर करने के लिए किया जाएगा। हमें विश्वास है कि अपनी महत्वाकांक्षी सतत विकास परियोजनाओं और योजनाओं को प्राप्त करने के लिए हम अपनी विकास की गति को बरकरार रखेंगे।”