समाचार
काबुल में गुरुद्वारे पर हमलावारों ने बरसाईं गोलियाँ, गार्ड की मौत व चार सिख लापता

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शनिवार (18 जून) को हथियारबंद बंदूकधारियों ने गुरुद्वारे के अंदर घुसकर ताबड़तोड़ गोलियाँ बरसाई हैं। हमले में करीब 25 लोगों के घायल होने की आशंका जताई जा रही है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, गुरुद्वारा अध्यक्ष गुरनाम सिंह के हवाले से बताया गया, “बंदूकधारियों ने अचानक गुरुद्वारे पर हमला बोल दिया और ताबड़तोड़ गोलियाँ बरसा रहे हैं।”

रिपोर्ट के अनुसार, गुरुद्वारा के अंदर दो हमलावर उपस्थित हैं। परिसद के भीतर 2 विस्फोट भी हुए और गुरुद्वारे से सटी कुछ दुकानों में आग भी लग गई है।

काबुल गुरुद्वारे पर हमला करने वाले बंदूकधारी संभवत: तालिबान के प्रतिद्वंद्वी दाएश समूह के हैं। तालिबान लड़ाके मौके पर पहुँच गए हैं और उनके बीच लड़ाई जारी है। गुरुद्वारा क्षतिग्रस्त हो गया है और चार सिख लापता हैं।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, “हम काबुल में गुरुद्वारे पर हमले को लेकर चिंतित हैं। स्थिति की बारीकी से निगरानी की जा रही है और आगे की घटनाओं के बारे में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा कर रहे हैं।”

भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि जानकारी के अनुसार गुरुद्वारा के मुस्लिम गार्ड की मौत हो चुकी है। अब भी 7-8 लोग गुरुद्वारे के अंदर फँसे हुए हैं। हालाँकि, संख्या की पुष्टि अभी नहीं हुई है। गोलीबारी अब भी जारी है।