समाचार
आईएएफ, डीआरडीओ ने स्वदेशी स्मार्ट एंटी-एयरफील्ड हथियार का सफल परीक्षण किया

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और भारतीय वायुसेना (आईएएफ) ने बुधवार (3 नवंबर) को संयुक्त रूप से स्वदेश में विकसित स्मार्ट एंटी-एयरफील्ड हथियार के दो उड़ान परीक्षण किए।

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि उपग्रह और इलेक्ट्रो ऑप्टिकल सेंसर पर आधारित दो अलग-अलग संस्करणों का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। इसमें उल्लेख गिया गया कि इस वर्ग के बम का इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल आधारित परीक्षण देश में पहली बार किया गया।

28 अक्टूबर और 3 नवंबर को राजस्थान के जैसलमेर में चंदन रेंज से आईएएफ के एक विमान द्वारा हथियार को लॉन्च किया गया था।

मंत्रालय ने कहा, “दोनों परीक्षणों में उच्च सटीकता के साथ लक्ष्य को निशाना बनाया गया। प्रणाली (हथियार) को अधिकतम 100 किलोमीटर की दूरी के लिए तैयार किया गया।”

बयान में आगे कहा गया कि उन्नत मार्गदर्शन और नेविगेशन एल्गोरिदम सॉफ्टवेयर ने मिशन की आवश्यकताओं के अनुसार प्रदर्शन किया। दूरमापी और खोज सिस्टम ने पूरे उड़ान के दौरान सभी अभियान कार्यक्रमों को किया। मिशन के सभी उद्देश्यों को प्राप्त किया गया।