समाचार
एचपीसीएल की तीन वर्षों में 5,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना

हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) की तीन वर्ष की अवधि में 5,000 इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी का लक्ष्य ईवी चार्जिंग के नए उभरे बाज़ार के एक महत्वपूर्ण हिस्से पर अपना नियंत्रण स्थापित करना है।

तेल प्रमुख कंपनी ईवी चार्जिंग सुविधाओं को जोड़कर 19,000 ईंधन खुदरा स्टेशनों, ब्रांड विश्वसनीयता और वाहन मालिकों की सेवा के वर्षों के अनुभव के अपने राष्ट्रव्यापी नेटवर्क का लाभ उठाने की योजना बना रही है। 5,000 ईवी चार्जिंग स्टेशनों में से अधिकांश इसके खुदरा ईंधन स्टेशनों में बनाए जाएँगे।

यह गौर किया जाना चाहिए कि कंपनी के पास वर्तमान में लगभग 85 ईवी चार्जिंग स्टेशन हैं, जो सभी मौजूदा ईंधन स्टेशनों पर स्थापित किए गए हैं। इसके अतिरिक्त, गत कुछ वर्षों में एचपीसीएल ने चार्जिंग स्टेशन और बैटरी स्वैपिंग सुविधाओं का संचालन किया है। ईवी चार्जिंग स्टेशनों के बड़े स्तर पर शुरू करने के लिए स्वयं को तैयार करने हेतु कंपनी ने कई साझेदारियाँ भी की हैं।

एचपीसीएल वर्तमान में एक ओपेक्स-शेयरिंग मॉडल का अनुसरण करता है, जिसमें टाटा मोटर्स और कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज (सीईएसएल) जैसे साझेदारों ने चार्जिंग सुविधाओं के लिए निवेश किया है। यह चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए एचपीसीएल के शुरुआती निवेश को कम करता है।