समाचार
यूएई व सऊदी अरब में हूती विद्रोहियों ने दागीं बैलिस्टिक मिसाइलें, हवा में ही नष्ट किया

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और सऊदी अरब पर हूती विद्रोहियों ने सोमवार सुबह पुनः बैलिस्टिक मिसाइलों से हमला बोल दिया। हालाँकि, दोनों ने हवा में ही मिसाइलों को मार गिराया है। इनका मलबा गिरने से दो विदेशी नागरिक घायल हो गए।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, सऊदी गठबंधन ने यमन के अल-जॉफ में मौजूद उस लॉन्च पैड को बर्बाद कर दिया, जिसका उपयोग बैलिस्टिक मिसाइल दागने के लिए किया जा रहा था। यूएई ने अमेरिका से हूतियों को पुनः आतंकी घोषित करने की मांग की। वहीं, सऊदी अरब, भारत और संयुक्त राष्ट्र ने हमले की निंदा की है।

यूएई की राजधानी अबू धाबी में हूती विद्रोहियों द्वारा किए गए हमले के बाद यमन पर लगातार बमबारी जारी है। हूती विद्रोहियों के साथ इसमें बड़ी संख्या में आम नागरिकों की भी मौत हो रही है। सऊदी अरब ने यमन के उत्तरी सादा प्रांत के एक सेंटर में 59 से अधिक हवाई हमले किए थे, जिसमें 77 लोगों की मौत हो गई, जबकि 146 लोग घायल हो गए।

हालाँकि, सऊदी अरब इन हमलों से मना कर रहा है। कहा जा रहा है कि यमन में मरने वालों की संख्या 300 से अधिक हो गई है। इनमें सबसे अधिक संख्या बच्चों की है।

बता दें कि ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों ने लाल सागर में संयुक्त अरब अमीरात के झंडे वाले जहाज का अपहरण कर लिया था। फिर उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात का राजधानी आबू धाबी में हमला करके मामला और बढ़ा दिया।

17 जनवरी को किए गए हमले के लिए हूतियों ने ड्रोन के साथ क्रूज़ व बैलिस्टिक मिसाइलों का उपयोग किया था। यमन युद्ध में यूएई सम्मिलित था लेकन हूतियों ने उस पर पहली बार हमला किया था। इससे पहले वे सऊदी अरब को निशाना बना रहे थे।