समाचार
“उत्तराखंड में भी जीते जी दलित को मुख्यमंत्री पद पर देखने की है चाहत”- हरीश रावत

पंजाब में दलित मुख्यमंत्री का कार्ड खेलने के बाद कांग्रेस ने उत्तराखंड में भी कुछ इसी तरह की चालें चलनी आरंभ कर दी हैं। राज्य में पार्टी के प्रचार अभियान प्रभारी हरीश रावत ने मंगलवार (21 सितंबर) को कहा कि मैं यहाँ भी दलित को मुख्यमंत्री के पद पर देखना चाहता हूँ। हम इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए काम करेंगे।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा के दौरान हरिद्वार के लकसर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए हरीश रावत ने कहा, “पूरे जीवन गाय के गोबर से कंडे बनाने वाली महिला के पुत्र को मुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस ने ना केवल पंजाब में बल्कि पूर्ण उत्तर भारत में एक इतिहास रच दिया है।”

उन्होंने कहा, “मैं भगवान् और मां गंगा से प्रार्थना करता हूँ कि मुझे मेरे जीते जी एक दलित के पुत्र को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के तौर पर देखने का अवसर मिले। हम इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेंगे।”

हरीश रावत ने कहा, “पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी संवाददाता सम्मेलन में जब अपने गरीब परिवार के बारे में बता रहे थे तो हम सबकी आँखों में आंसू आ गए थे। मैंने दलित के पुत्र को इतना बड़ा पद देने पर सोनिया गांधी और राहुल गांधी को धन्यवाद दिया है।”