समाचार
“प्लास्टिक निर्माण उद्योग 5 वर्षों में 10 लाख करोड़ का कारोबार लक्ष्य बनाए”- पीयूष गोयल

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने मंगलवार (7 दिसंबर) को प्लास्टिक निर्माण उद्योग को आगामी 5 वर्षों में अपने कारोबार को 3 लाख करोड़ के वर्तमान स्तर से बढ़ाकर 10 लाख करोड़ रुपये करने का लक्ष्य रखने को कहा है।

मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि भारत में प्लास्टिक मशीनरी के निर्माण को बढ़ाने और आयात पर निर्भरता कम करने की बहुत बड़ी संभावनाएँ उपस्थित हैं।

उन्होंने मंगलवार को देश में प्लास्टिक उद्योग के कामकाज की समीक्षा की और इस क्षेत्र के प्रदर्शन व क्षमता को और बढ़ाने के लिए उद्योग के हितधारकों के विचारों व सुझावों को सुना। वाणिज्य मंत्रालय की विज्ञप्ति के अनुसार, इस दौरान उन्होंने कहा कि प्लास्टिक उद्योग देश में रोजगार का सबसे बड़ा उत्पादक है।

मंत्री ने कहा कि अब इसका लक्ष्य 5 वर्ष में टर्नओवर में अपेक्षित वृद्धि व रोजगार को दोगुना करने के साथ होना चाहिए। उन्होंने प्लास्टिक उद्योग के प्रतिभागियों को गुणवत्ता पर ध्यान देने के लिए कहा कि सेकेंड हैंड मशीनरी के उपयोग पर निर्भरता आगे का रास्ता नहीं है।

गोयल ने एमएसएमई को कच्चे माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर भी बल दिया, ताकि वे प्रतिस्पर्धा और विकास कर सकें। उन्होंने कहा कि सभी हितधारकों से अधिकतम समर्थन एमएसएमई को दिए जाने की आवश्यकता है क्योंकि वे विशाल रोजगार के अवसर तैयार करते हैं और लाखों आजीविका का समर्थन करते हैं।

उन्होंने प्लास्टिक उद्योग से भारत में सर्वोत्तम उत्पादन करने के लिए क्षमता निर्माण करने के लिए प्रतिबद्ध होने को कहा।