समाचार
सड़क दुर्घटनाएँ कम करने हेतु विश्व बैंक संग ₹7,500 करोड़ की योजना लागू करेगी केंद्र

संपूर्ण भारत में सड़क दुर्घटनाओं के मुद्दे के समाधान हेतु केंद्र सरकार विश्व बैंक के साथ साझेदारी करने को तैयार है।

राज्य और राष्ट्रीय राजमार्गों पर दुर्घटना संभावित क्षेत्रों और दुर्घटना वाले स्थानों को कम करने हेतु 7,500 करोड़ रुपये की योजना लागू करने पर काम चल रहा है।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने राष्ट्रीय राजमार्गों पर लगभग 3750 दुर्घटना स्थलों की पहचान की है।

वे एक साथ इस सूची में और अधिक दुर्घटना संभावित क्षेत्रों को जोड़ रहे हैं।

इंडियन एक्सप्रेस ने केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के हवाले से कहा, “केंद्र सरकार इस मुद्दे को लेकर बहुत संवेदनशील है। हम शीघ्र ही पूरे देश में विश्व बैंक के समर्थन से 7,500 करोड़ रुपये की योजना लागू करेंगे। हमने विश्व बैंक से इस कार्यक्रम को पूरे देश में लागू करने का आग्रह किया है।”

उन्होंने आगे कहा, “हमें शीघ्र ही इस योजना पर कैबिनेट की स्वीकृति मिल जाएगी, जिससे राष्ट्रीय राजमार्गों और राज्य की सड़कों पर दुर्घटना-प्रवण और दुर्घटना स्थलों पर सुधार करने में सहायता मिलेगी।”

इस योजना को तमिलनाडु सरकार द्वारा विश्व बैंक की सहायता से पहले ही क्रियान्वित किया जा चुका है।

गडकरी ने राज्यसभा को बताया कि इससे राज्य में हादसों और मौतों में 50 प्रतिशत की गिरावट आई है।