समाचार
टाटा मोटर्स को दो हाइड्रोजन-संचालित बसों के सड़क योग्यता परीक्षण की स्वीकृति- रिपोर्ट

टाटा मोटर्स को सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से दो हाइड्रोजन-संचालित बसों के सड़क योग्यता परीक्षणों के लिए स्वीकृति मिल गई है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, हाइड्रोजन आधारित प्रोटॉन एक्सचेंज मेम्ब्रेन (पीईएम) ईंधन सेल बसों का निर्माण टाटा मोटर्स द्वारा इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) के लिए एक विशेष अनुबंध के तहत किया जा रहा है।

इससे पूर्व, गत वर्ष जून में टाटा मोटर्स को आईओसीएल से 15 हाइड्रोजन आधारित ईंधन सेल बसों का ऑर्डर मिला था। इसके अतिरिक्त, आईओसीएल ने दो बसों के लिए टाटा मोटर्स के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे।

ईटी ने टाटा मोटर्स के हवाले से कहा, “हमें इन दो बसों के लिए वाहन परीक्षण करने हेतु सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय से स्वीकृति मिली है।”

कंपनी ने कहा कि आईओसीएल अन्य आवश्यक स्वीकृति लेने की प्रक्रिया में है और अनुमोदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद परीक्षण शुरू हो जाएगा।

आईओसीएल ने दिसंबर 2020 में पीईएम ईंधन सेल बसों की आपूर्ति के लिए बोलियाँ आमंत्रित की थीं। यह आईओसीएल की एक आंतरिक परियोजना है, जिसे आंशिक रूप से पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित किया जाता है।

कंपनी ने कहा, “बसों का विकास समय पर हो रहा है। दूसरे चरण के प्रोटोटाइप का परीक्षण अगले कुछ महीनों में शुरू होने की अपेक्षा है।”