समाचार
गोरखनाथ मंदिर हमला- आरोपी मुर्तजा के लैपटॉप में निकले ज़ाकिर नाईक के वीडियो

गोरखनाथ मंदिर के गेट पर दो पीएसी कांस्टेबल पर हमले की जाँच कर रही उत्तर प्रदेश एटीएस की एक टीम गिरफ्तार आरोपी मुर्तजा अब्बासी के बारे में अधिक जानकारी जुटाने के लिए नवी मुंबई पहुँची, जो सैटेलाइट सिटी के आसपास रहता था।

एक पुलिस अधिकारी ने मंगलवार को जानकारी दी कि अब्बासी ने प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर के एक गेट पर हमला किया था और रविवार शाम को उनके काबू में आने से पहले परिसर में घुसने का प्रयास किया था।

उन्होंने उप्र पुलिस का हवाला देते हुए कहा कि अब्बासी को गिरफ्तार करने के बाद यूपी पुलिस ने गोरखपुर में उसके आवास पर छापा मारा और उसका लैपटॉप व एक मोबाइल फोन एकत्र किया, जिसमें विवादास्पद इस्लामिक उपदेशक ज़ाकिर नाइक और आईएसआई से संबंधित वीडियो निकले।

अब्बासी के आधार कार्ड में उसके आवासीय पते का उल्लेख मिलेनियम टॉवर, सानपाड़ा, नवी मुंबई के रूप में है। इसके अनुसार, उप्र एटीएस की एक टीम अब्बासी के बारे में जानकारी एकत्र करने मुंबई गई।

सोमवार को यूपी एटीएस की टीम ने वाशी के समीप सानपाड़ा स्थित भवन (मिलेनियम टावर) का दौरा किया। अधिकारी ने कहा कि टीम ने पाया कि फ्लैट (अब्बासी के आधार कार्ड पर) 2013 में बेचा गया था।

यूपी एटीएस की टीम जब उसके आधार कार्ड वाले पते पर पहुँची तो पता चला कि यह फ्लैट 2013 में ही बिक चुका है। उन्होंने कहा कि अब्बासी के पिता मुनीर अब्बासी ने नवी मुंबई में भी सीवुड्स दरवे में सेक्टर 50 में ताज हाइट्स अपार्टमेंट में एक और फ्लैट खरीदा है।

उन्होंने कहा कि एनआरआई पुलिस थाने के अधिकारियों की मदद से एटीएस की टीम ने उस फ्लैट का दौरा किया। वहाँ जाने के बाद पता चला कि अब्बासी परिवार अक्तूबर 2020 में गोरखपुर आ गया था और फ्लैट को किराए पर दे दिया था।