समाचार
नौसेनिक सुविधा हेतु राफेल समुद्री लड़ाकू विमान गोवा पहुँचा, फ्रांस की सौदे पर नज़र

भारतीय नौसेना के लड़ाकू विमान सौदे पर नज़र लगाए बैठे फ्रांस ने अपनी लड़ाकू क्षमताओं का प्रदर्शन करने के लिए गुरुवार को गोवा में नौसैनिक सुविधा हेतु एक राफेल समुद्री लड़ाकू विमान भेजा।

भारतीय नौसेना स्वदेशी विमानवाहक पोत (आईएसी) विक्रांत के लिए लड़ाकू विमानों का एक बैच खरीदने की योजना बना रही है, जिसके अगस्त में चालू होने की संभावना है।

इस विकास से परिचित लोगों ने कहा कि राफेल लड़ाकू विमान के नौसैनिक संस्करण का प्रदर्शन गोवा में तट-आधारित परीक्षण सुविधा (एसबीटीएफ) में शुरू हो गया।

2017 में भारतीय नौसेना ने अपने विमानवाहक पोत के लिए 57 बहु-भूमिका वाले लड़ाकू विमानों की खरीद हेतु सूचना के लिए अनुरोध (आरएफआई) जारी किया था।

सौदे के लिए चार विमान आए थे, जिनमें राफेल (डसॉल्ट, फ्रांस), एफ-18 सुपर हॉर्नेट (बोइंग, यूएस), एमआईजी-29के (रूस) और ग्रिपेन (साब, स्वीडन) सम्मिलित थे।

आगामी कुछ माह में शेष दावेदारों के भी प्रदर्शन हेतु अपने विमान भारत लाने की संभावना है।