समाचार
एफपीआई ने 2021 में आईपीओ में किया ₹79,000 करोड़ से अधिक का निवेश- रिपोर्ट

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 2021 में भारतीय प्राथमिक बाज़ार में रिकॉर्ड 79,851 करोड़ रुपये का निवेश किया, जो 2020 में 72,463 करोड़ रुपये के पिछले उच्च स्तर को पार कर गया।

मनीकंट्रोल की रिपोर्ट के अनुसार, सेंट्रल डिपॉजिटरी सर्विसेज़ लिमिटेड (सीडीएसएल) के आँकड़ों में बताया गया कि दूसरे दर्जे के बाज़ार में 6.8 अरब डॉलर के शेयरों की बिक्री के बावजूद एफपीआई इस वर्ष 3.9 अरब डॉलर की भारतीय इक्विटी के शुद्ध खरीदार बने।

2021 में कुल 65 कंपनियाँ सार्वजनिक हुईं और उन्होंने इस प्रक्रिया के माध्यम से कुल 1.31 लाख करोड़ रुपये एकत्र किए। यह 2017 की तुलना में 74.6 प्रतिशत अधिक है, जो भारतीय शेयर बाज़ार के इतिहास में आईपीओ के लिए पिछला रिकॉर्ड वर्ष था।

कई बड़ी लिस्टिंग होने की वजह से 2021 में आईपीओ बाज़ार मजबूत रहा है। ज़ोमैटो, नाइका, कार ट्रेड टेक, पीबी फिनटेक, पेटीएम और फिनो पेमेंट्स बैंक जैसी कई नए युग की टेक और फिनटेक कंपनियाँ इस वर्ष इक्विटी मार्केट में लिस्ट हुई हैं।

बता दें कि पेटीएम ने भारतीय बाज़ारों के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी 18,300 करोड़ रुपये की राशि जुटाई है।