समाचार
कुशीनगर अंतर-राष्ट्रीय हवाई अड्डे के उद्घाटन की कई विदेशी पदाधिकारियों ने की प्रशंसा

श्रीलंका के मंत्री नमल राजपक्षे सहित कई विदेशी पदाधिकारियों ने बुधवार (20 अक्टूबर) को कुशीनगर अंतर-राष्ट्रीय हवाई अड्डे के उद्घाटन की सराहना की और कहा कि इससे भारत आने वाले बौद्ध पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में नए अंतर-राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन किया और कहा कि उनकी सरकार ने विमानन क्षेत्र में नई ऊर्जा पैदा करने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

राजपक्षे ने संवाददाताओं से कहा, “भारत और श्रीलंका के मध्य पर्यटन हमेशा बहुत मजबूत रहा है। श्रीलंका में हमारे यहाँ बहुत सारे भारतीय आ रहे हैं। वहीं, भारत के कई राज्यों में श्रीलंकाई तीर्थयात्री विशेषकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्वाचन क्षेत्र आ रहे हैं।”

श्रीलंका के कैबिनेट मंत्री ने कहा, “तो अब हम मानते हैं कि कुशीनगर हवाई अड्डे के खुलने के बाद श्रीलंका से तीर्थयात्रियों (भारत आने वाले) और दुनियाभर से बौद्ध तीर्थयात्रियों की संख्या में वृद्धि होगी।”

भारत में थाइलैंड के राजदूत पट्टारत होंगटोंग ने कहा कि कुशीनगर हवाई अड्डे से दोनों देशों के मध्य पर्यटन में सुधार होगा और बौद्ध यात्रियों को सुविधा होगी।भारत में वियतनाम के राजदूत फाम सान चाऊ ने भी कहा कि कुशीनगर हवाई अड्डा भारत आने वाले बौद्ध पर्यटकों की संख्या को और अधिक बढ़ाएगा।

प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार, कुशीनगर हवाई अड्डे का निर्माण 260 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से किया गया है। यह घरेलू और अंतर-राष्ट्रीय तीर्थयात्रियों को भगवान बुद्ध के ‘महापरिनिर्वाण’ स्थल पर जाने की सुविधा प्रदान करेगा। यह दुनिया भर के बौद्ध तीर्थस्थलों को जोड़ने का प्रयास है।