समाचार
18 माह में सेवा क्षेत्र की गतिविधियों में अगस्त में सबसे अधिक वृद्धि- रिपोर्ट

भारत में सेवा क्षेत्र की गतिविधियाँ अगस्त 2021 में गत 18 माह की अपेक्षा सबसे तेज़ी से आगे बढ़ी हैं। एक सर्वेक्षण में बताया गया कि यह विकास देश भर में कोविड से संबंधित प्रतिबंधों को हटाने और समग्र टीकाकरण कार्यक्रम के तेज़ होने के चलते आया है।

भारत सेवा व्यापार गतिविधि सूचकांक अगस्त में 56.7 अंक पर पहुँच गया है, जबकि गत माह जुलाई में यह 45.4 था। यह गौर किया जाना चाहिए कि 50 को सूचकांक की तटस्थ सीमा माना जाता है, जिसने चार महीनों में पहली बार अगस्त में उस अंक को पार किया।

बाज़ारों में बढ़ती रौनक और प्रतिष्ठानों को पुनः खोलना, ऐसे कारक हैं जिनकी वजह से कथित तौर पर चार महीनों में व्यवसायों में वृद्धि हुई है।

इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट में आईएचएस मार्किट इंडिया सर्विसेस के अर्थशास्त्र सहयोगी निदेशक पोलियाना डी लीमा के हवाले से कहा गया, “घरेलू मांग में पर्याप्त वृद्धि ने 8.5 वर्षों में नए कारोबार में सबसे मजबूत मासिक वृद्धि को रेखांकित किया और गतिविधि में नए सिरे से वृद्धि की।”

इस अध्ययन में लगभग 400 सेवा क्षेत्र की कंपनियों की प्रतिक्रियाएँ सम्मिलित थीं। इससे यह निष्कर्ष निकलता है कि कंपनियों के पास बढ़ते ऑर्डर को पूरा करने के लिए पर्याप्त क्षमता थी लेकिन वे साथ में नौकरियों के नए सृजन को रोके हुए थे।