समाचार
यूरोपीय संघ के नेता वर्ष के अंत तक 90 प्रतिशत रूसी तेल पर लगा सकते हैं प्रतिबंध

मास्को पर नए प्रतिबंधों के रूप में यूरोपीय संघ के नेताओं ने वर्ष के अंत तक अधिकांश रूसी तेल आयात को प्रतिबंधित करने पर सहमति व्यक्त की है।

इस प्रतिबंध में समुद्र द्वारा लाए गए रूसी तेल को सम्मिलित किया गया है, जिससे पाइपलाइन द्वारा दिए गए आयात के लिए अस्थायी छूट की अनुमति मिलती है।

यूरोपीय संघ परिषद् के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल ने कहा, “समझौते में रूस से दो-तिहाई से अधिक तेल आयात सम्मिलित है।”

कार्यकारी शाखा के प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने कहा, “ये बड़ा कदम इस वर्ष के अंत तक रूस से यूरोपीय संघ के लिए आयात होने वाले करीब 90 प्रतिशत तेल में कटौती करके उठाया जाएगा।”

यूरोपीय संघ परिषद् के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल ने कहा, “ईयू के नेताओं ने युद्धग्रस्त देश की अर्थव्यवस्था का समर्थन करने के लिए यूक्रेन को 9 अरब यूरो (9.7 अरब डॉलर) की सहायता देने पर भी सहमति व्यक्त की। ”

नए प्रतिबंधों के रूप में रूसी व्यक्तियों की संपत्ति सील करने और यात्रा पर प्रतिबंध शामिल होगा, जबकि रूस का सबसे बड़ा बैंक सेबरबैंक, स्विफ्ट इससे बाहर रखा जाएगा। नए प्रतिबंधों को 1 जून तक कानूनी रूप से समर्थन दिया जाएगा।

हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ओर्बन ने स्पष्ट किया था कि वे नए प्रतिबंधों का समर्थन तभी तक कर सकते हैं, जब तक उनके देश में तेल आपूर्ति सुरक्षा की गारंटी है। वियना में अंतर-राष्ट्रीय संगठनों के रूस के स्थायी प्रतिनिधि मिखाइल उल्यानोव ने यूरोपीय संघ के निर्णय का जवाब देते हुए कहा कि रूस अन्य आयातकों को ढूंढेगा।

बता दें कि यूरोपीय संघ को अपनी प्राकृतिक गैस का लभगग 40 प्रतिशत और 25 प्रतिशत तेल रूस से प्राप्त होता है।